दिन की ऐसी शुरुआत इससे करो, हर काम मुमकिन हो जाएगा


रोज सुबह जब मैं कुछ अच्छा सुनता हूं, अच्छा देखता हूं, और अच्छा सोचता हूं, तो मेरा पूरा दिन अच्छा होने की संभावना बहुत बढ़ जाती है। और जब एक एक करके मेरा हर दिन अच्छा बीतने लगता है तो मेरी जिंदगी अच्छी हो जाती है। मैं अपने पूरे दिल से आज के इस दिन का स्वागत करता हूं।

आज का यह दिन मेरी आने वाली जिंदगी का पहला दिन है और मुझे पूरा यकीन है कि यह दिन मेरी जिंदगी के सबसे अच्छे दिनों में से एक होने वाला है। आज मैं बहुत खुश हूं क्योंकि मुझे पूरा विश्वास है कि आज ऐसा कुछ ना कुछ जरूर होगा जो आज से पहले कभी नहीं हुआ।

आज मैं कुछ नया सीखूँगा, कुछ नया देखूँगा, कुछ नया सुनूँगा, कुछ नया सोंचूंगा, और कुछ नया बनूंगा।

आज मैं बहुत अच्छा महसूस कर रहा हूं। अतीत में मुझसे जाने-अनजाने जो भी गलतियां हुई या मेरे साथ में जो कुछ भी गलत हुआ उसके लिए मैं खुद को और दूसरों को पूरी तरह से माफ करता हूं।

मेरा ध्यान गुजरे हुए कल पर नहीं बल्कि आने वाले पल पर है। आज मुझे जो कुछ भी करना है उसके बारे में मैंने अच्छे से सोच लिया है और अपने हर लक्ष्य को पाने के लिए मैं पूरी तरह से तैयार हूं।

मेरा मन बिल्कुल शांत है और मेरा ध्यान पूरी तरह से अपने लक्ष्य पर केंद्रित है मेरी सोच बहुत ही सकारात्मक है। मेरा यह मानना है कि मेरे साथ में जो कुछ भी होता है वह अच्छे के लिए होता है।

मेरी जिंदगी में जो भी मुश्किलें हैं, मैं उनको मुश्किलों की तरह नहीं बल्कि एक अवसर की तरह देखता हूं। खुद को आगे बढ़ाने का अवसर, खुद को जानने का अवसर, खुद को अंदर से और शक्तिशाली बनाने का अवसर।

आज जो भी चुनौतियां मेरे सामने आने वाली हैं उनका सामना करने के लिए मैं पूरी तरह से तैयार हूं।

मुझे अपनी जिंदगी से बहुत प्यार है मेरा शरीर अंदर से पूरी तरह से स्वस्थ है। और मेरी बुद्धि किसी भी परिस्थिति में सही फैसले लेने के लिए पूरी तरह से सक्षम है। मेरा मन आनंद से भरा हुआ है और मैं हमेशा खुश रहता हूं, मस्त रहता हूं और हंसता खेलता रहता हूं।

यह जिंदगी मेरे लिए एक खेल के जैसी है और मैं इस खेल का पक्का खिलाड़ी हूं। मुझे हार से या जीत से कोई फर्क नहीं पड़ता। मेरा सिर्फ एक मकसद है कि जिंदगी के इस खेल में मुझे खुद को इस काबिल बनाना है कि दुनिया की जितनी भी खुशियां हैं वह खुद चलकर मेरे पास आएं। और जो कुछ भी मेरे पास है और जो लोग भी मेरे साथ हैं उन सब के लिए मैं अपने पूरे दिल से शुक्रगुजार हूं। मुझे किसी भी तरह की कोई कमी नहीं है। मुझे खुद की काबिलियत पर पूरा भरोसा है।

पूरे ब्रह्मांड की सारी शक्तियां मेरे साथ हैं। और मेरे अंदर ऊर्जा का पूरा का पूरा भंडार है। अब चाहे कुछ भी हो जाए मुझे आगे बढ़ने से दुनिया की कोई ताकत नहीं रोक सकती। मेरे लिए कुछ भी नामुमकिन नहीं है, सब मुमकिन है। जो भी मैं सोच सकता हूं वह सब मैं कर सकता हूं, कर सकता हूं, कर सकता हूं।

- VikramSingh Valera

टिप्पणी पोस्ट करें