Bottom Article Ad

सर्दियों का सबसे मशहूर ट्रेक केदारकंठा || Kedarkantha trekking


 केदारकंठा उत्तराखंड का सबसे बड़ा जिला उत्तरकाशी के उत्तर-पश्चिम में 12500 फ़ीट के एल्टीट्यूड पर पड़ता है। सर्दियों बर्फबारी के समय रूई के फोहों-सी आसमान से टपकती बर्फ, ऐसा लगता है मानो चांद पर बैठी सूत कातती बुढ़िया अचानक से रूई धुनने बैठ गई हो। चारों ओर बर्फ की सफेद चादर सी बिछी दिखाई देती है। उस सफेद चादर को रौंदते हुए उस पर जाकर स्नोमैन का पुतला बनाने से आपको कोई नहीं रोक सकता। 



बर्फीली रात में चांदनी, बर्फ की चादर से टकराकर खूब चमकती है। टैंट से बाहर आसमान को निहारते हुए आप आकाशगंगा में काफ़ी देर तक खो सकते हैं। मौसम हमारे लिए सिर्फ वही मौसम नहीं होता जो प्रकृति हमारे बाहर रचती है, बल्कि वह भी होता है जो हम अपने भीतर अपनी यादों और अनुभवों के कैनवास पर रचते हैं। केदारकंठा ऐसा ही ट्रेक है जो मनुष्य के भीतर रचे मौसम को प्रकृति के मौसम से जोड़ देती है। 




केदारकंठा ट्रेक की भौगोलिक स्थिति और तथ्य 

क्षेत्र- पश्चिमोत्तर उत्तराखंड 
एल्टीट्यूड- 12500 फीट के लगभग
रेंज - संकरी
दूरी- देहरादून से 200 किलोमीटर मोटर वाहन 35 किलोमीटर पैदल ट्रेक
श्रेणी - आसान से मध्यम
निकटतम रेलवे स्टेशन- देहरादून (डीडीएन) और हरिद्वार (एचडब्ल्यू)
निकटतम हवाई अड्डा- जॉली ग्रांट, देहरादून (कोड: डीईडी) 
निकटतम बस टर्मिनस / हब- देहरादून इंटर स्टेट बस टर्मिनस (आईएसबीटी)




अब बात करते हैं आईटनरी की 
केदारकंठा ट्रेक को अच्छा से पूरा करने के लिए लगभग 5 दिन का समय लगता है।

दिन-1 देहरादून से सांकरी गांव के लिए निकले। 

छोटा मार्ग: मसूरी के माध्यम से
लंबा मार्ग: विकासनगर के माध्यम से
प्रमुख बिंदु: मसूरी/विकासनगर, दमटा, नौगांव, पुरोला, मोरी, नेतवार और सांकरी

आईएसबीटी से बस और टैक्सी चलती है। बस का 400 और शेयर्ड टैक्सी का 500 रूपए किराया है। 

सांकरी पहुंच कर होटल या होम स्टे में रूम लें। रूम 400 से शुरू होती है। खाना खाएं और रेस्ट करें। खाना में 80-100 रूपए के बीच बढ़िया थाली मिल जाता है 

दिन-2 सांकरी गांव से जुदा का ताल 

लगभग 4 किलोमीटर का ट्रेक है। 4-5 घंटा समय लगता है। शेफर्ड कैंपसाइट में लंच/डिनर कर सकते हैं। शाम में ताल के आसपास घुमें और रात टैंट में बिताए

दिन-3 जुदा का ताल से केदारकंठा बेस कैंप

लगभग 5 किलोमीटर की चढ़ाई है। 6-7 घंटा लगेंगे। 2 लीटर पानी साथ रखें साथ में चाॅकलेट वैगरह भी रखें। ट्रेक करते समय कदमों के फासले को कम रखें। हिमालय के बहुत सुंदर नजारे दिखेंगे। रात टैंट में रूकें

दिन-4 बेसकैंप से केदारकंठा समिट

लगभग 8 किलोमीटर का ट्रेक है। 7-8 घंटा का समय लगता है। टेंट लगाएं, लंच करें और मनोरम दृश्यों का आनंद लें। बर्फ में अपने आप खेल कूद लेंगे। शाम में बोनफायर वैगरह को एंजॉय करें

दिन-5 केदारकंठा से वापस सांकरी।

उतरना आसान है। लगभग 17 किलोमीटर का ट्रेक है 6-7 घंटा में उतर जाएंगे। सांकरी में रूम लें और खाना खाकर रेस्ट करें। 

दिन-6 सांकरी से देहरादून

लगभग 200 किलोमीटर की ड्राइव से देहरादून पहुंच जाएंगे। 





कृपया निम्न बातों का ध्यान रखें

• ट्रेक पर जाने से पहले सुनिश्चित कर लें कि आपने अपने बैग में -15° सेल्सियस तापमान से बचने के लिए गर्म कपड़ा रख लिए हैं
• ट्रैक शूज, टोपी, दस्ताने, स्टीक, पानी की बोतल इत्यादि का खास ध्यान रखें
• अगर खुद से कैंपिंग करना चाहें तो कैंप का सारा इक्यूपमेंट लेकर ही जाएं जैसे कि टैंट, स्लीपिंग बैग, मैटरस, बर्तन, स्टोव, माचिस, राशन इत्यादि

नोट- केदारकंठा ट्रेक को खुद से करने का अपना अलग मजा और सजा है। कंपनियों के सर्विस लेने पर भी खर्चा उतना ही आएगा...








एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ